USER NAME

PASSWORD

Forgot your password? - Click here "OR" Registration Now

We do not remember days... We remember moments...

Mere Alfaaz Not only a platform a world. To express his emotions. Their emotions filling of the sea. It is now trying to forum to all of them, who are interested in writing.

Mere Alfaaz is our own accumulation of Hindi Poem, Shayari, Story, Ghazal that we get a out of the chance to offer with the world.

SPECIAL SECTION

The Largest online collection of Hindi Urdu Poetry

Ambalika sharma
क्यूँ समझते नही वो जिन्हें

Readmore

Neetu Gupta

मेरा शहर  सुबह के ताजे अ

Readmore

Neetu Gupta

Ek pal k liye laga ki sb kuch  kho diya Maine...
Itna k

Readmore

amrit raj

चीखता रहा मौन...
भीतर कह

Readmore

Neetu Gupta

जब जब तू दिखाता है सपने

Readmore

Neetu Gupta

मैं एक गजल कहना चाहता हूंReadmore

Welcome to Mere Alfaaz

All Events

Today Spaical

Photo Gallery

मेरे अल्फ़ाज़ एक छोटा सा शब्द लेकिन समा जाते है इसमें सारे ज़ज़्वात ।

मेरे अल्फ़ाज़ एक मंच ही नही एक सँसार है । अपनी भावनाओं को व्यक्त करने का । अपने ज़ज्वतों का सागर भरने का । यह मंच उन सभी को अबसर देने का प्रयास करता है , जो लेखन में रूचि रखते हैं ।

अपने मन के भाव , अपने अल्फ़ाज़ में लिखते हैं । कविता गीत ग़ज़ल या हो कहानी साहित्य कि कोई भी विधा । हर विधा का स्वरचित साहित्य सृजन आमन्त्रित है इस मंच पर ।

मेरे अल्फ़ाज़ छोटा सा प्रयास है शहर गाँव कस्बो से निकल सब को एक मंच पर लाने का । अपने क्षेत्र अपनी डायरी तक सिमित न रहते हुए हम विश्व पटल पर अपने आपको ला सकें। अपने सृजन अपनी अभिव्यक्ति को व्यक्त करने का सशक्त मंच ।

मेरे अल्फ़ाज़ । 26 नबम्बर 2015 से माँ वाणी की कृपा से यह अभियान प्रारम्भ हुआ । आज इस मंच से कई प्रतिभाशाली रचनाकार जुड़े जो अपने सृजन से साहित्य जगत को नई दिशा दे रहे हैं । अपनी पहचान लोगो के दिलों में बना रहे हैं ।

Mere Alfaaz

i want YOU to register - a good beginning never ends